UP Free Boring Yojana 2024 online Registration: सरकार दे रही किसानो को फ्री बोरिंग

UP Free Boring Yojana 2024 1

UP Free Boring Yojana 2024 online Registration: सरकार दे रही किसानो को फ्री बोरिंग-उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य में छोटे और सीमांत किसानों को मुफ्त बोरिंग सुविधा प्रदान करने के उद्देश्य से यूपी मुफ्त बोरिंग योजना 2024 शुरू की है. यह पहल किसानों द्वारा सामना की जाने वाली पानी की कमी को दूर करने और उन्हें अपनी कृषि उत्पादकता में सुधार करने में सक्षम बनाने के लिए बनाई गई है. मुफ़्त बोरिंग सेवाएँ प्रदान करके, सरकार का इरादा किसानों की सहायता करना है जो स्वयं बोरिंग स्थापित करने की लागत वहन करने में असमर्थ हैं. इस आर्टिकल में हम UP Free Boring Yojana 2024 online Registration: सरकार दे रही किसानो को फ्री बोरिंग के मुख्य विवरणों के बारे मे बतायेगे, जिसमें आवेदन प्रक्रिया, पात्रता मानदंड, लाभ और बहुत कुछ शामिल हैं.तो इस लेख पर अंत तक बने रहे.

यूपी मुफ्त बोरिंग योजना का उद्देश्य-

यूपी फ्री बोरिंग योजना 2024 एक सरकारी योजना है जिसका उद्देश्य पूरे उत्तर प्रदेश में किसानों को मुफ्त बोरिंग सुविधा प्रदान करना है. आइए इस योजना की मुख्य विशेषताओं पर नज़र डालें:

यूपी फ्री बोरिंग योजना का उद्देश्य यूपी फ्री बोरिंग योजना 2024 का प्राथमिक उद्देश्य छोटे और सीमांत किसानों के लिए सिंचाई सुविधाओं को बढ़ाना है जो अपनी कृषि भूमि में पानी की कमी से जूझते हैं. मुफ्त बोरिंग सेवाएं प्रदान करके, सरकार का लक्ष्य किसानों पर वित्तीय बोझ को कम करना और उन्हें सिंचाई के लिए विश्वसनीय जल स्रोतों तक पहुंचने में सक्षम बनाना है.

Nishulk Boring Yojana UP के लाभ एवं विशेषताएं-

यूपी फ्री बोरिंग योजना 2024 के लाभ यूपी फ्री बोरिंग योजना 2024 उन किसानों को कई लाभ प्रदान करती है. जो योजना के लिए पात्र हैं. कुछ प्रमुख लाभों में शामिल हैं:

मुफ्त बोरिंग सुविधाओं तक पहुंच, किसानों पर वित्तीय बोझ को खत्म करना.

सिंचाई सुविधाओं में सुधार, जिससे कृषि उत्पादकता में वृद्धि हुई.

पानी की कमी के कारण फसल के नुकसान में कमी.

अधिक फसल पैदावार के माध्यम से किसानों के लिए आय के अवसरों में वृद्धि.

टिकाऊ कृषि पद्धतियों को बढ़ावा देकर जलवायु परिवर्तन के प्रभावों को कम करना.

यूपी निःशुल्क बोरिंग योजना के पात्र की शर्ते

आवेदक उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना चाहिए.

किसान की कृषि भूमि नदियों, नहरों या अन्य जल निकायों से दूर स्थित होनी चाहिए.

किसान के पास छोटी या सीमांत भूमि होनी चाहिए.

किसान के पास न्यूनतम कृषि योग्य जमीन का रकबा- 0.2 हेक्टेयर होनी चाहिए.

किसान के पास न्यूनतम 0.2 हेक्टेयर की जमीन न होने पर किसान मिल कर किसान समूह बनाकर इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते है.

जिस किसान ने किसी अन्य सिंचाई योजना का लाभ नहीं प्राप्त किया हो वह किसान इस योजना के लिए पात्र होगे.

सरकार दे रही किसानो को फ्री बोरिंग

सरकारी बोरिंग में क्या क्या मिलता है?

कृषक की श्रेणीअनुमन्य अनुदानअनुमन्य अनुदान
सामान्य श्रेणी के सीमांत कृषकअधिकतम रु०-4000 प्रति बोरिंगयूनिट कास्ट रु०-11300 का 33% अधिकतम रु०-3750 प्रति पंप सेट
अनुसूचित जाति/जनजाति के लघु/सीमांत कृषकअधिकतम रु०-6000 प्रति बोरिंगयूनिट कास्ट रु०-11300 का 50% अधिकतम रु०-5650 प्रति पंप सेट

यूपी निःशुल्क बोरिंग योजना के आवश्यक दस्तावेज

आधार कार्ड

जमीन की फर्द प्रमाणित

खतौनी की नकल लेखपाल दुआरा जारी

आय प्रमाण पत्र तहसील दुआरा जारी

बोरिंग का प्रमाण

राशन कार्ड

पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ

मोबाइल नंबर

निवास प्रमाण पत्र

पम्प सेट का जीएसटी बिल

यूपी निःशुल्क बोरिंग योजना में आवेदन कैसे करे

यूपी फ्री बोरिंग योजना 2024 के लिए आवेदन करने के लिए, किसान ऑनलाइन पंजीकरण प्रक्रिया का पालन करना होगा. आवेदन के स्टेप इस प्रकार हैं: 1. यूपी फ्री बोरिंग योजना 2024 की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं.

2. नाम, पता, भूमि संबंधी जानकारी आदि विवरण के साथ ऑनलाइन आवेदन पत्र भरें

4.अब आपको किसान के हस्ताक्षर, खसरा, खतौनी, आधार कार्ड, अन्य दस्तावेज अपलोड करना है.

5.उसके बाद मोबाइल नंबर दर्ज करें और Send OTP पर क्लिक करें.

6. OTP का सत्यापन करें. सभी जानकारी भरने के बाद फॉर्म को Submit करें.

7.आवेदन पत्र ऑनलाइन जमा करें और भविष्य के संदर्भ के लिए पंजीकरण संख्या नोट कर ले.

आवेदन पत्र की स्वीकृति होने पर किसान को सूचित किया जायेगा.

लघु सिंचाई विभाग, उत्तर प्रदेश लॉगिन कैसे करें?

लघु सिंचाई विभाग, उत्तर प्रदेश लॉगिन कैसे करें?लघु सिंचाई विभाग को लॉग इन करने के लिए सबसे पहले लघु सिंचाई विभाग, उत्तर प्रदेश की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा.

अब आपके सामने योजना की वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा.

मुख्य पृष्ठ पर आपको लॉग इन के लिंक कर क्लिक करना होगा.

क्लिक करते ही आपके स्क्रीन पर लॉग इन पेज खुल जायेगा.

तदनुसार आपको लॉग इन के लिए अपनी यूजर आईडी और पासवर्ड दर्ज करना होगा.

उसके बाद नीचे दिए गए कैप्चा कोड को दर्ज करना होगा.

सभी प्रक्रिया पूर्ण करने के बाद अंत में आपको Login के लिंक पर क्लिक करना होगा.

इस तरह से आपकी लघु सिंचाई विभाग में लॉग इन प्रक्रिया पूर्ण हो जाएगी.

यूपी फ्री बोरिंग योजना 2024 के कार्यान्वयन की प्रक्रिया-

यूपी फ्री बोरिंग योजना 2024 के कार्यान्वयन में विभिन्न चरण शामिल हैं, जो पात्र किसानों को सेवाओं की कुशल और पारदर्शी डिलीवरी सुनिश्चित करते हैं.

कार्यान्वयन प्रक्रिया के प्रमुख चरण इस प्रकार हैं:

1. निर्धारित मानदंडों के आधार पर पात्र किसानों की पहचान

2. प्रदान की गई जानकारी एवं दस्तावेजों का सत्यापन

3. बोरिंग स्थापना हेतु धन एवं संसाधनों का आवंटन

4. कृषि आवश्यकताओं के आधार पर बोरिंग हेतु उपयुक्त स्थानों का चयन

5. अधिकृत एजेंसियों या ठेकेदारों द्वारा बोरिंग सिस्टम की स्थापना

6. स्थापित प्रणालियों की उचित कार्यप्रणाली सुनिश्चित करने के लिए उनकी नियमित निगरानी और रखरखाव करना

सहायता संपर्क सूत्र

कार्यालय का पता-

मुख्य अभियंता, लघु सिंचाई विभाग, तृतीय तल, उत्तर विंग, जवाहर भवन, लखनऊ 226001

फोन नं० : 2286627 / 2286601 / 2286670

फैक्स : 2286932

ईमेल : milu-up@nic.in

उपसंहार

UP Free boring Yojana 2024 online Registration-यूपी फ्री बोरिंग योजना 2024 पानी की कमी की चुनौतियों से उबरने में छोटे और सीमांत किसानों को समर्थन देने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा उठाया गया एक महत्वपूर्ण कदम है. मुफ्त बोरिंग सुविधा प्रदान करके, सरकार का लक्ष्य राज्य में सिंचाई सुविधाओं को बढ़ाना और कृषि उत्पादकता में सुधार करना है. पात्र किसान ऑनलाइन पंजीकरण प्रक्रिया के माध्यम से योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं और मुफ्त बोरिंग सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं. यह पहल न केवल किसानों को आर्थिक रूप से मदद करती है बल्कि कृषि क्षेत्र के समग्र विकास में भी योगदान देती है. यूपी फ्री बोरिंग योजना 2024 के कार्यान्वयन के साथ, किसान अपनी खेती की जरूरतों के लिए जल संसाधनों तक पहुंच बढ़ाकर एक उज्जवल भविष्य की आशा कर सकते हैं.

यूपी फ्री बोरिंग योजना 2024 पर अधिक जानकारी और अपडेट के लिए कृपया योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं.

FAQ

ट्यूबवेल से ट्यूबवेल की दूरी कितनी होनी चाहिए?

एक बोरवेल से दूसरे की दूरी 300 मीटर से कम नहीं होनी चाहिए.

सामुदायिक नलकूप योजना क्या है?

सामुदायिक नलकूप योजना के अंतर्गत कई किसान मिलकर एक सामूहिक नलकूप लगवा सकते हैं. इसके लिए सरकार की तरफ से उन्हें सब्सिडी भी दी जाती है. इस की सहायता से छोटे किसान जिनके पास कम जमीन होती है. वह इस प्रकार से नलकूप मिलने की वजह से अपने खेतों में सिंचाई करके खेती कर सकते हैं जिससे उनकी लागत भी कम लगेगी और उनकी इनकम ज्यादा होगी.

बोरिंग कराने में कितना खर्चा आता है?

हमारे यहॉ बोरवेल करने की लागत भूमिगत जल तक पहुंचने के लिए ड्रिलिंग की गहराई और बोर-वेल पाइप की की क्वालटि पर निर्भर करता है. वैसे लागत की बात करे तो लगभग 2 लाख से 5 लाख के बीच हो सकती है.

सरकारी नलकूप कैसे लगाएं?

मध्यम- गहरे नलकूप योजना के लिए सभी जाति और श्रेणी के कृषक पात्र है. मध्यम- गहरे नलकूप ले लिए न्यूनतम 6 हेक्टेयर शुद्ध व 10 हेक्टेयर संकल सिंचित भूमिं कृषक के पास होना आवश्यक है.

यूपी बोरिंग ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करें?

UP Free Boring Yojana ऑनलाइन आवेदन कैसे करें

यूपी बोरिंग ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की पूरी प्रक्रिया हमने इस आर्टिकल मे स्टेप बाई स्टेप बताई है. जिसे फोलो करके आप UP Free Boring Yojana के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते है.

Leave a Comment

mahjong slot

slot server thailand

starlight princess slot

slot bet 100 perak

bet 10 ribu

nexus slot

garansi kekalahan

https://siwscollege.edu.in/judi-bola/

joker123 slot